logo

  • 20
    09:54 am
  • 09:54 am
logo Media 24X7 News
news-details
तकनीकी

भूकंप के साथ ही हुई थी साल 2023 की शरुआत, अब तक 32 बार डोली धरती, फरवरी में सबसे अधिक झटके

भारत के पड़ोसी राज्य नेपाल में कल रात आई 6.4 तीव्रता के भूकंप ने भारी तबाही मचाई है.पश्चिमी नेपाल के सुदूर पर्वतीय क्षेत्र में शुक्रवार आधी रात को भूकंप के तेज झटकों के कारण कम से कम 128 लोगों की मौत हो गई और कई अन्य लोग घायल हो गए. राष्ट्रीय भूकंप निगरानी एवं अनुसंधान केंद्र के अनुसार, भूकंप आधी रात 11 बजकर 47 मिनट पर आया, जिसका केंद्र जाजरकोट जिले में था. 

 

भूकंप का असर काठमांडू, इसके आसपास के जिलों और यहां तक कि पड़ोसी देश भारत की राजधानी नई दिल्ली समेत उत्तर भारत के कई हिस्सों में महसूस किया गया. सरकारी ‘नेपाल टेलीविजन' के अनुसार, पश्चिमी नेपाल के जाजरकोट और रुकुम जिले भूकंप के कारण सबसे अधिक प्रभावित हुए. गृह मंत्रालय ने बताया कि दोनों जिलों में 128 लोगों की मौत हो गई और 140 अन्य लोग घायल हो गए। अभी तक यह पता नहीं लग पाया है कि भूकंप के कारण कितने मकान क्षतिग्रस्त हुए. मृतक संख्या बढ़ने की आशंका है. 

बता दें दि इस साल अब तक भारत में 32 बार भूकंप के झटके महसूस किए जा चुके हैं. साल की शुरुआत ही भूकंप से हुई थी. नए साल के पहले दिन दिल्ली और आसपास के इलाकों में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. भूकंप की तीव्रता 3.8 आंकी गई थी. नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के अनुसार दिल्ली और आसपास के इलाकों में झटके के साथ हरियाणा के झज्जर में 3.8 तीव्रता का भूकंप दर्ज किया गया था. वहीं, इस साल फरवरी में सबसे अधिक 6 बार भूकंप आया था. 

 

1. भारत के पड़ोसी राज्य नेपाल में 3 नवंबर रात आई 6.4 तीव्रता के भूकंप ने भारी तबाही मचाई है.

2. दिल्ली एनसीआर में 15 अक्टूबर, रविवार को भूकंप के झटके महसूस किए गए. दिल्ली, गुरुग्राम और नोएडा सहित कई हिस्सों में लोगों ने महसूस किया. इस भूकंप का केंद्र हरियाणा के फरीदाबाद के पास था. रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 3.1 बताई गई थी.

3. उत्तराखंड (Uttarakhand) के उत्तरकाशी के पास 5 अक्टूबर को 3.2 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए. भारत के राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र के अनुसार, भूकंप का केंद्र भारत के उत्तराखंड के उत्तरकाशी से 33 किमी उत्तर-उत्तर पश्चिम (एनएनडब्ल्यू) में था. भूकंप भारतीय समयानुसार सुबह 3:49 बजे सतह से 5 किमी की गहराई पर आया था.

4. दिल्ली-NCR समेत उत्तर भारत के कई हिस्सों में मंगलवार, 3 अक्टूबर को भूकंप के देर तक झटके महसूस किए गए. दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद, जयपुर समेत उत्तर भारत के अलग-अलग इलाकों में भूकंप के कई झटके महसूस किए गए. रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 6.2 मापी गई. वहीं, इसके कुछ देर बाद दूसरा झटका भी महसूस किया गया.

5. असम और मेघालय में 2 अक्टूबर सोमवार शाम को भूकंप के झटके महसूस किए गए. भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 5.2 मापी गई. नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के मुताबिक, भूकंप का केंद्र मेघालय के नार्थ गारो हिल्स में 10 किलोमीटर की गहराई में था. असम और मेघालय के अलावा त्रिपुरा में भी भूंकप के झटके महसूस किए गए थे. 

6. अंडमान सागर में 12 सितंबर को भूकंप के झटके महसूस किए गए.रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 4.4 रही. 

7. बंगाल की खाड़ी में 11 सितंबर को 4.4 तीव्रता का भूकंप आया. इसकी गहराई 70 किमी दर्ज की गई. 

8. मेघालय के चेरापूंजी के पास 14 अगस्त को 5.4 तीव्रता वाले भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए. 

9. देश के कई इलाकों में शनिवार, 5 अगस्त को भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए. तीव्रता 5.8 भूकंप का केंद्र अफगानिस्‍तान के हिंदू कुश में था. 

10. अंडमान निकोबार द्वीप समूह  29जुलाई को भूकंप के झटकों से दहला. रिक्टर स्केल पर इसकी 5.9 तीव्रता आंकी गई. 

11. राजस्थान के जयपुर में शुक्रवार, 21 जुलाई की सुबह लोग भूकंप के झटकों से जगे. 16 मिनट के भीतर आए तीन झटकों से लोग सहम गए और डर कर घर से बाहर भागे. नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी (एनसीएस) ने बताया कि 3.4 तीव्रता का भूकंप सुबह लगभग 4.25 बजे आया. एनसीएस के मुताबिक, ये 10 किलोमीटर की गहराई पर हुआ.

12. जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में 17 जून को भूकंप के झटके महसूस किए गए.

13. जम्मू क्षेत्र में 14 जून को एक ही दिन में भूकंप के 4 झटके आए. इसकी तीव्रता 5.4 थी, जिस वहज से प्रशासन ने स्कूल-कॉलेजों को बंद करने का आदेश दिया था. 

14. जम्मू-कश्मीर में 13 जून को भी 5.4 तीव्रता का भूकंप आया था. पूरे उत्तर भारत में भी झटके  महसूस हुए.  

15. अंडमान निकोबार द्वीप में Diglipur के निकट 5 जून को रिक्टर पैमाने पर 3.9 तीव्रता वाले भूकंप के झटके महसूस किए गए. 

16. असम, मेघालय, उत्‍तराखंड में 29 मई को भूकंप के तेज झटके महसूस किये गए हैं. नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के मुताबिक, सोमवार सुबह तेजपुर के निकट रिक्टर पैमाने पर 4.4 तीव्रता वाले भूकंप के झटके महसूस किए गए.

17. भारत के नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के मुताबिक, 28 मई, रविवार सुबह अफगानिस्तान के फैजाबाद के पास 5.2 तीव्रता का भूकंप आया. अफगानिस्तान में आए भूकंप के कारण दिल्ली समेत उत्तर भारत में भी झटके महसूस हुए. 

18. जम्मू-कश्मीर में 30 अप्रैल को श्रीनगर के निकट रिक्टर पैमाने पर 4.1 तीव्रता वाले भूकंप के झटके महसूस किए गए. 

19 असम के गुवाहाटी में 17 अप्रैल को 3.7 तीव्रता वाले भूकंप के झटके  महसूस किए गए. 

20. बिहार से लेकर पश्चिम बंगाल में 12 अप्रैल भूकंप के झटके महसूस किए गए. रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 4.3 दर्ज हुई. 

21. Arunachal Pradesh में Changlang के निकट 24 मार्च को रिक्टर पैमाने पर 4.2 तीव्रता वाले भूकंप के झटके महसूस किए गए. 

22. दिल्ली-NCR समेत पूरे उत्तर भारत में 22 मार्ट को भूकंप के झटके महसूस किए गए. रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 6.6 आंकी गई. भूकंप का केंद्र हिंदू कुश की पहाड़ियों में बताया जा रहा है.

23. मणिपुर में 28 फरवरी को बिष्णुपुर के निकट भूकंप के झटके महसूस किए गए.

24. Sikkim में Yuksom के निकट 13 फरवरी को रिक्टर पैमाने पर 4.3 तीव्रता वाले भूकंप के झटके महसूस किए गए.

25. असम के कुछ हिस्सों में 12 फरवरी को भूकंप आया था.

26. तेलंगाना के निजामाबाद में 5 फरवरी को 3.1 तीव्रता का भूकंप आया था. हालांकि, इसमें जान-माल का नुकसान नहीं हुआ था.

26. गुजरात के अमरेली में 4 फरवरी भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. रिएक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 3.2 मापी गई. 

27. हरियाणा के कुरुक्षेत्र के निकट 3 फरवरी को रिक्टर पैमाने पर 3.2 तीव्रता वाले भूकंप के झटके महसूस किए गए. 

28. गुजरात के कच्छ में 30 जनवरी को भकूंप के झटके महसूस किए गए. आईएसआर ने कहा कि इससे पहले, सुबह पांच बजकर 18 मिनट पर 3.2 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए थे, जिसका केंद्र जिले में खावड़ा गांव से 23 किलोमीटर पूर्व-दक्षिणपूर्व में था. 

29. दिल्ली-NCR में 24 जनवरी को भूकंप के झटके महसूस किए गए. भूकंप का केंद्र पश्चिम नेपाल में बताया जा रहा है, रिएक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 5.8 मापी गई.

30. हिमाचल प्रदेश में 14 जनवरी को 3.2 तीव्रता का भूकंप आया था.  

31. अफगानिस्तान में 6 जनवरी को 5.9 तीव्रता का भूकंप आया था. दिल्ली-NCR में भी झटके महसूस हुए थे. रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 5.9 बताई गई थी. 

32. नए साल के पहले दिन दिल्ली और आसपास के इलाकों में भूकंप के झटके महसूस किए गए. भूकंप की तीव्रता 3.8 आंकी गई है. नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी ने कहा कि दिल्ली और आसपास के इलाकों में झटके के साथ हरियाणा के झज्जर में 3.8 तीव्रता का भूकंप दर्ज किया गया.

 

 

 

 

You can share this post!

Comments

Leave Comments