logo

  • 15
    01:11 pm
  • 01:11 pm
logo Media 24X7 News
news-details
जम्मू-कश्मीर

कैप्टन की राह पर चलेंगे गुलाम नबी आजाद? कश्मीर में रैलियों की भीड़ से हैं गदगद, कांग्रेस छोड़ बना सकते हैं अपनी नई पार्टी

जम्मू-कश्मीर कांग्रेस में गुलाम नबी आजाद के करीब 20 वफादारों ने पिछले दो हफ्तों में अपनी पार्टी के पदों से इस्तीफा दे दिया है। अपने त्यागपत्रों में नेताओं ने गुलाम अहमद मीर को राज्य इकाई के प्रमुख के पद से हटाने सहित कांग्रेस में व्यापक बदलाव के बारे में सवाल उठाया है।

जम्मू और कश्मीर कांग्रेस के उपाध्यक्ष जीएन मोंगा ने कहा, "हमने पार्टी आलाकमान को बताया है कि पार्टी के भीतर कुछ समस्याएं हैं। हम उन समस्याओं को दूर करना चाहते हैं। जहां तक ​​आजाद साहब का सवाल है, वह हमारे नेता हैं और इतने सालों से यहां हैं।" मोंगा ने पत्र में कहा कि उन्होंने जम्मू-कश्मीर कांग्रेस प्रमुख को हटाने के लिए भी कहा है। 

 

आजाद की जनसभाओं में भारी भीड़ ने कांग्रेस पार्टी के पर्यवेक्षकों को चौंका दिया और कांग्रेस को झकझोर कर रख दिया है।  सूत्रों का कहना है कि आजाद अगर अपनी पार्टी बनाते हैं तो जम्मू-कश्मीर के ज्यादातर कांग्रेस नेताओं के उनके साथ जाने की संभावना है। उनके एक करीबी सूत्र ने कहा, "अन्य पार्टियों के कई नेता हैं जिन्होंने आजाद से संपर्क किया है। वे कहते हैं कि अगर आजाद अपनी पार्टी बनाते हैं तो वे इसमें शामिल होंगै।"

चिंतित कांग्रेस ने कहा है कि वे आजाद का सम्मान करते हैं लेकिन इस्तीफे से नाखुश हैं। जम्मू-कश्मीर कांग्रेस के प्रवक्ता रविंदर शर्मा ने कहा, "पूरी पार्टी उनका सम्मान करती है। हम उनका सम्मान करते हैं, लेकिन अनुशासन का पालन करना होगा। लेकिन कुछ लोग हैं जो आजाद के करीबी माने जाते हैं, उनके बयान स्पष्ट रूप से अनुशासन का उल्लंघन हैं।"

You can share this post!

Comments

Leave Comments