logo

  • 16
    09:01 am
  • 09:01 am
logo Media 24X7 News
news-details
क्राइम

दिल्ली के हर्ष विहार में सिर्फ 500 रुपये के लिए की थी हत्‍या, पुलिस ने सुलझाई मौत की गुत्‍थी

उत्तरपूर्वी दिल्ली के हर्ष विहार इलाके में शुक्रवार को 25 वर्षीय एक व्यक्ति मृत पाया गया, जिसके शरीर पर चाकू घोपने के कई निशान थे. दिल्‍ली पुलिस ने इस मर्डर केस को सुलझाने का दावा किया है. पुलिस ने इस मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है, जिसमें 2 नाबालिग हैं. हालांकि, एक नाबालिग आरोपी अभी तक फरार बताया जा रहा है. इस मर्डर के पीछे की वजह लूट बताई जा रही है. 

 

पुलिस ने बताया कि चोरी किया गया फोन भी बरामद कर लिया गया है. वहीं, हत्‍या में इस्‍तेमाल चाकू और कपड़े भी मिल गए हैं, जिनके ऊपर खून के निशान हैं. गिरफ्तार हत्‍या के आरोपियों की उम्र 21, 17 और 17 वर्ष है. हत्या के पीछे की वजह लूट है. अभिषेक ठाकुर और उसके 3 अन्य साथियों (एक नाबालिग अभी भी फरार है) ने पीड़ित को शमशान घर, मंडोली के पास एक सुनसान जगह पर रोक लिया. उन्होंने उसे लूटने की कोशिश की. जब उसने विरोध किया, तो एक आरोपी ने पीड़ित को पीछे से पकड़ लिया, जबकि अभिषेक ठाकुर ने उस पर कई बार चाकू से वार किये. उन्होंने पीड़ित से उसका फोन और कुछ नकदी (लगभग 500 रुपये) लूट ली और मौके से भाग गए.

 

पुलिस ने बताया कि हत्या करने के बाद आरोपी ऑटो लेकर नरेला पहुंचे, जहां वे एक रिश्तेदार के घर सो गए. अभिषेक ठाकुर ने लूटा गया फोन एक अनजान खरीदार को अगले दिन 1600 रुपये में बेच दिया. पुलिस ने बताया कि मृतक की पहचान सलमान के रूप में हुई है, जो उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर का निवासी है और यहां हर्ष विहार में मंडोली एक्सटेंशन में रहता था.

 

पुलिस ने बताया कि सलमान, ज्योति नगर में मीत नगर फाटक के पास पानी का ठेला लगाता था. उसने बृहस्पतिवार को रात साढ़े 10 बजे अपनी मां से बात की थी जिसके बाद परिजनों का उससे कोई संपर्क नहीं हुआ. पुलिस ने बताया कि उन्हें सुबह सात बजे सूचना मिली कि मंडोली श्मशान घाट के पास एक व्यक्ति पड़ा हुआ है जिसके पेट पर चाकू घोपने के कई घाव हैं. उन्होंने बताया कि पुलिसकर्मी घटनास्थल पर पहुंचे और उसे अस्पताल ले गए जहां चिकित्सकों ने सलमान को मृत घोषित कर दिया. उसका मोबाइल फोन और पर्स गायब था.
 

You can share this post!

Comments

Leave Comments