logo

  • 08
    03:51 pm
  • 03:51 pm
logo Media 24X7 News
news-details
राज्य

महज 20 मिनट की उड़ान और फिर वह क्रूर हादसा, राजनाथ सिंह ने संसद में दी हेलिकॉप्टर क्रैश की पूरी जानकारी

तमिलनाडु के कुन्नूर में हेलिकॉप्टर क्रैश में सीडीएस जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी समेत 13 लोगों की मौत के मामले में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लोकसभा और राज्यसभा में जानकारी दी। यह पहला मौका है, जब सरकार की ओर से इस घटना के बारे में कोई जानकारी सार्वजनिक तौर पर दी गई है। राजनाथ सिंह ने बताया कि इस घटना को लेकर जांच के आदेश दे दिए गए हैं और सीडीएस के साथ ही सभी जवानों का अंतिम संस्कार पूरे मिलिट्री सम्मान के साथ किया जाएगा।

 

एयर मार्शल मानवेंद्र की अगुवाई में होगी जांच

सदन में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बताया कि चॉपर में सवार 14 में 13 लोगों की मौत हो चुकी है। उन्होंने यह भी बताया कि कैसे बचाव दलों ने बाकी 13 को भी बचाने की हर संभव कोशिश की। उन्होंने बताया कि घटना के बाद घायलों को वेलिंगटन अस्पताल ले जाया गया था। घटना में अकेले बचे ग्रुप कैप्टन वरुण फिलहाल लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर हैं। राजनाथ सिंह ने बताया कि भारतीय वायुसेना ने इस क्रैश के बाद ट्राई-सर्विस इनक्वॉयरी के आदेश दिए हैं। यह जांच एयर मार्शल मानवेंद्र सिंह की अगुवाई में होगी। 

20 मिनट बाद ही टूटा हेलीकॉप्टर का संपर्क

राजनाथ सिंह ने बताया कि जनरल बिपिन रावत अपने एक पूर्वनिर्धारित समारोह में शामिल होने जा रहे थे। सुबह 11:48 पर सुलूर से उड़ान भरी। इसे 12:15 पर वेलिंगटन में लैंड करना था, लेकिन 12:08 मिनट पर एयर ट्रैफिक कंट्रोल से संपर्क टूट गया। इस दौरान लोगों ने आवाज सुनी तो मौके पर पहुंचे और तुरंत ही रेस्क्यू शुरू किया। प्राप्त जानकारी के अनुसार हेलिकॉप्टर में सवार 14 में से 13 लोगों की मृत्यु हो गई। इनमें सीडीएस बिपिन रावत एवं उनकी पत्नी मधुलिका रावत भी शामिल थीं। जनरल बिपिन रावत वेलिंगटन के डिफेंस कॉलेज के छात्रों से बातचीत के लिए अपने एक शेड्यूल्ड कार्यक्रम पर थे।

 

राजनाथ सिंह ने बताया कि सभी पार्थिव शरीरों को आज शाम भारतीय वायुसेना के विमान से दिल्ली लाया जाएगा और पूरे सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी जाएगी। 

You can share this post!

Comments

Leave Comments