logo

  • 29
    09:26 pm
  • 09:26 pm
logo Media 24X7 News
news-details
क्राइम

ग्रेटर नोएडा: चाकुओं से गोदकर महिला की हत्या, चेहरे को पत्थर से कुचला

अपराधियों ने महिला के शरीर पर चाकुओं से वार कर हत्या की और पहचान छिपाने के लिए चेहरे को पत्थर से कुचल दिया. अभी तक मृतक महिला की पहचान नहीं हो पाई है.

ग्रेटर नोएडा में थाना सूरजपुर क्षेत्र के गांव देवला में 26 वर्ष की एक महिला का शव बरामद हुआ है. महिला की चाकुओं से गोदकर हत्या की गई है. शव की पहचान छिपाने के लिए पत्थर से उसका चेहरा कुचल दिया गया है. सूचना पाकर मौके पर पंहुची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. पुलिस अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच में जुट गई है.

पुलिस को बुधवार शाम करीब 6 बजे सूचना मिली कि गांव देवला के पास खेत में संदिग्ध परिस्थिति में एक महिला का शव पड़ा है. मौके पर पंहुची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और जांच में जुट गई. अपराधियों ने महिला के शरीर पर चाकुओं से वार कर हत्या की और पहचान छिपाने के लिए चेहरे को पत्थर से कुचल दिया. अभी तक मृतक महिला की शिनाख्त नहीं हो पाई है.

दिल्ली में बुजुर्ग की हत्या

पूर्वी दिल्ली के फर्श बाजार इलाके में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है. यहां धर्मपाल नाम के एक व्यक्ति को एसी की गर्म हवा का विरोध करने पर पड़ोसी ने घर में घुसकर पहले पीटा और फिर छत से नीचे फेंक दिया. बुजुर्ग की मौके पर ही मौत हो गई. इससे पहले धर्मपाल के बेटे, बहू और परिवार के लोगों की आरोपियों ने इसलिए पिटाई कर दी क्योंकि इन लोगों ने पड़ोसी के एसी से बाहर आने वाली गर्म हवा पर ऐतराज जताया था. इसी मारपीट में धर्मपाल को भी अधमरा कर दिया. उन्हें आसपास के लोगों ने हेडगेवार अस्पताल पहुंचाया जहां उनकी मौत हो गई. इस घटना में 5 आरोपियों के नाम हैं जिनमें 3 की गिरफ्तारी हो गई है, बाकी के दो की तलाश जारी है.

40 लाख के गांजे के साथ दो गिरफ्तार

पश्चिमी दिल्ली जिला पुलिस की नारकोटिक्स सेल ने 40 लाख के गांजे के साथ दो लोगों को गिरफ्तार किया है. आरोपियों के नाम प्रदीप कुमार मांझी और रवींद्र नाइक है. इनपुट के आधार पर नारकोटिक्स सेल ने नारायणा इलाके में एक ट्रक को रोका और इन दोंनो आरोपियों को गिरफ्तार किया. साथ ही ट्रक से 367.930 किलोग्राम गांजा बरामद किया. आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि उन्हें यह गांजा आजमी नाम के शख्स को देना था जो नंद नगरी में रहता है और वहां से पूर्वी दिल्ली के बाकी इलाकों में इसकी सप्लाई होनी थी.पुलिस पूछताछ के बाद सामने आया कि दिल्ली में अलग-अलग जगहों पर सप्लाई के लिए ओडिशा से गांजा लाया गया था. पुलिस ने ओडिशा से चल रहे इस सिंडिकेट के बारे में जानकारी जुटाई. एक माह तक लगातार सर्विलांस के बाद पुलिस को एक ट्रक में 367.930 किलोग्राम गांजा दिल्ली आने की सूचना मिली. पुलिस टीम ने नारायणा बस स्टैंड के पास रिंग रोड पर ट्रक को रोक लिया. पहली बार ट्रक की छानबीन में गांजा नहीं मिला. इसे रखने के लिए अलग से केबिन बनाया गया था. दोबारा छानबीन में इस केबिन का पता चला. पुलिस टीम ने इस केबिन को काटने के लिए वेल्डिंग मशीन मंगवाई. डेढ़ घंटे की मशक्कत के बाद पुलिस ने केबिन काट कर ट्रक से गांजा बरामद किया.

You can share this post!

Comments

Leave Comments