logo

  • 20
    11:26 pm
  • 11:26 pm
logo Media 24X7 News
news-details
क्राइम

Buxar कांड में नया मोड़, प्रेमी के साथ गई थी पीड़िता, गैंगरेप की भी पुष्टि नहीं

Buxar Gang Rape में पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है. महिला के साथ गैंगरेप की पुष्टि नहीं हुई है. महिला अपने प्रेमी के साथ गई थी. प्रेमी के बहनोई के यहां पूरे दिन रुकी भी. पुलिस की मानें तो प्रेमी से किसी ​बात को लेकर महिला का विवाद हो गया था, जिसके बाद उसने महिला और उसके बच्चे को अपने सा​थियों के साथ मिलकर नदी में फेंक दिया, जिसमें पांच वर्षीय लड़के की मौत हो गई.

Buxar Gang Rape में पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है. महिला के साथ गैंगरेप की पुष्टि नहीं हुई है. महिला अपने प्रेमी के साथ गई थी. प्रेमी के बहनोई के यहां पूरे दिन रुकी भी. पुलिस की मानें तो प्रेमी से किसी ​बात को लेकर महिला का विवाद हो गया था, जिसके बाद उसने महिला और उसके बच्चे को अपने सा​थियों के साथ मिलकर नदी में फेंक दिया, जिसमें पांच वर्षीय लड़के की मौत हो गई.

मोबाइल डिटेल से हुआ मामले का खुलासा 

बक्सर जिले के ओझा बराव गांव में महिला से गैंगरेप के बाद मासूम की हत्या के मामले में पुलिस ने चौंकाने वाला खुलासा किया है. पुलिस ने अपहरण के बाद गैंगरेप की कहानी को झूठ बताया है. पुलिस की मानें तो इस घटना के पीछे की कहानी प्रेम प्रसंग है. पुलिस द्वारा महिला की मेडिकल जांच कराई गई, जिसमें पुष्टि हो चुकी है, कि महिला के साथ गैंगरेप नहीं हुआ. इसके बाद पुलिस पूछताछ और जांच में कई राज खुले, जिसमें पता चला कि महिला का अपहरण नहीं किया गया था, बल्कि वह अपनी मर्जी से प्रेमी के साथ उसके बहनोई के घर गई थी. वहां एक पूरे दिन रुकी भी. इसके बाद क्या हुआ, इस बारे में अभी तक कुछ भी स्पष्ट नहीं हो पा रहा है.

बनाई झूठी कहानी 

पुलिस की मानें तो महिला ने झूठी कहानी बनाई थी कि बैंक जाते समय उसका अपहरण कर लिया गया. सुनसान स्थान पर ले जाकर उसके साथ गैंगरेप किया और बाद में उसके पांच वर्ष के बेटे के साथ उसे नदी में फेंक दिया. इस घटना में पांच साल के लड़के की मौत हो गई थी. महिला के बयान पर पुलिस ने भीम यादव और मीना राम के अलावा तीन अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की. मीना राम को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया, लेकिन पुलिस ने जब जांच शुरू की, तो मामला कुछ और ही निकला. 

 

मोबाइल ने खोला राज

पुलिस जांच में पता चला कि 10 अक्टूबर को महिला के मोबाइल की लोकेशन राजपुर थाने सोनपा गांव में थी. महिला की कॉल डिटेल से पता चला, कि एक नंबर पर उसकी लंबी बात पहले से ही होती चली आ रही थी. जब इस ओर पुलिस ने जांच बढ़ाई, तो मामले का खुलासा हुआ. पता चला कि राजपुर थाने के ओरा निवासी चुलबुल राजभर से उसके प्रेम संबंध हैं. महिला के गांव में रिश्तेदारी होने के कारण चुलबुल का वहां आना जाना था. इसी बीच दोनों में प्रेम हो गया. पुलिस के अनुसार घटना के दिन चुलबुल अपने गांव के ही दोस्त रवि के साथ ओझा बरांव पहुंचा था. इस दौरान महिला भी अपने पांच वर्षीय बेटे के साथ घर से निकल आई. सड़क पर महिला की मुलाकात पहले से इंतजार कर रहे प्रेमी से हो गई. यहां से वह अपने प्रेमी के साथ उसके बहनोई के घर सोनपा चले गए. बताया गया है कि चुलबुल ने उसे अपने बहनोई के घर दिनभर रखा और आधी रात को उसके पिता की तबीयत खराब होने का बहाना बनाकर घर के लिए रवाना कर दिया. महिला के साथ चुलबुल रवि और राधेश्याम भी ऑटो से ओझा बरांव पहुंच गए. 

दोनों के बीच हुआ झगड़ा 

पुलिस ने बताया कि ओझा बरांव नहर के पास महिला का उसके प्रेमी चुलबुल से किसी बात को लेकर विवाद हो गया. पुलिस का मानना है कि इसी विवाद के चलते प्रेमी ने महिला और उसके बेटे को नदी में फेंक दिया. हालांकि इस बात की अभी पूरी तरह पुष्टि नहीं की गई है. एसपी नीरज कुमार ने बताया कि महिला से अभी पूछताछ की जाएगी.

You can share this post!

Comments

Leave Comments