logo

  • 01
    12:20 pm
  • 12:20 pm
logo Media 24X7 News
news-details
खेल

Ind vs Aus: सिडनी में हनुमा विहारी ने दिखाया जज्बा, लंगड़ाते हुए ड्रॉ कराया मैच, ICC भी मुरीद

 

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सिडनी में खेला गया तीसरा टेस्ट ड्रॉ रहा. इस मैच को ड्रॉ कराने में आर अश्विन और हनुमा विहारी ने बड़ा योगदान दिया. हनुमा विहारी और अश्विन ने 256 गेंदों में नाबाद 62 रनों की पार्टनरशिप की थी.

स्टोरी हाइलाइट्स

  • हनुमा विहारी ने चोटिल होने के बावजूद 161 गेंदों में 23 रन बनाए
  • हनुमा विहारी ने लंगड़ाते हुए मैच ड्रॉ करा दिया
  • हनुमा विहारी की इस पारी का आईसीसी भी मुरीद हो गया है

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सिडनी में खेला गया तीसरा टेस्ट ड्रॉ रहा. इस मैच को ड्रॉ कराने में आर अश्विन और हनुमा विहारी ने बड़ा योगदान दिया. हनुमा विहारी और अश्विन ने 256 गेंदों में नाबाद 62 रनों की पार्टनरशिप की थी. हनुमा विहारी ने चोटिल होने के बावजूद 161 गेंदों में 23 रन बनाए. दरअसल, हनुमा विहारी दूसरी पारी में बैटिंग के दौरान चोटिल हो गए थे. वह रन भी नहीं दौड़ पा रहे थे, लेकिन इसके बावजूद उन्होंने लंगड़ाते हुए मैच ड्रॉ करा दिया. हनुमा विहारी की इस पारी का आईसीसी भी मुरीद हो गया है.

आईसीसी ने ट्वीट कर सिडनी टेस्ट मैच के पांचवें और आखिरी दिन हनुमा विहारी के जज्बे को सलाम किया है. चार मैचों की ये सीरीज अब बेहद रोमांचक मोड़ पर पहुंच गई है. अब 15 जनवरी से ब्रिस्बेन में खेले जाने वाले चौथे टेस्ट को जो टीम जीतेगी, सीरीज उसके नाम हो जाएगी. हैमस्ट्रिंग इंजरी से जूझ रहे हनुमा विहारी ने 161 गेंदों में नाबाद 23 रनों की पारी खेली, वहीं पहली पारी में पैट कमिंस की गेंद पर चोटिल होने वाले ऋषभ पंत ने 118 गेंदों में ताबड़तोड़ 97 रन बनाए. इन दोनों ने ऑस्ट्रेलिया के जीत के मनसूबों पर पानी फेर दिया.

Ashwin embraces his teammate Hanuma Vihari (Getty)

इसके अलावा आर अश्विन ने 128 गेंदो में 39 रनों की नाबाद पारी खेली. टेस्ट क्रिकेट में चार साल के बाद अश्विन ने एक पारी में 100 से ज्यादा गेंदे खेली हैं. चौथी पारी में भारत को जीत के लिए 407 रनों की जरूरत थी, लेकिन चौथे दिन रोहित शर्मा (52) और शुभमन गिल (31) के आउट होने के बाद ऑस्ट्रेलिया की जीत निश्चित लग रही थी. 

इसके बाद पांचवें दिन शुरुआती छह ओवर के खेल में ही भारत ने कप्तान अजिंक्य रहाणे का विकेट भी गवां दिया. रहाणे चौथे दिन के स्कोर में एक रन भी नहीं जोड़ सके और चार रनों पर ही पवेलियन लौट गए. रहाणे के आउट होने के बाद ऐसा लग रहा था कि मानो दो सेशन में ही ऑस्ट्रेलिया मैच जीत लेगी. लेकिन इसके बाद चेतेश्वर पुजारा और ऋषभ पंत ने चौथे विकेट के लिए 148 रनों की साझेदारी की.

पुजारा 205 गेंदों में 77 रन बनाकर जोश हेजलवुड की गेंद पर आउट हुए. अपनी इस पारी में उन्होंने 12 चौके लगाए. वहीं पंत ने 118 गेंदो में 97 रनों की अपनी तूफानी पारी में 12 चौके और तीन गगनचुंबी छक्के लगाए. इन दोनों के काम को हनुमा विहारी और रविचंद्रन अश्विन ने अंजाम तक पहुंचाया. विहारी ने 161 गेंदों पर सिर्फ नाबाद 23 रन बनाए और अश्विन ने 128 गेंदों पर नाबाद 39 रन बना 62 रनों की साझेदारी कर मैच ड्रॉ करा दिया. 

You can share this post!

Comments

Leave Comments