logo

  • 01
    11:41 am
  • 11:41 am
logo Media 24X7 News
news-details
राजनीति

योगी मॉडल या नीतीश मॉडल? बिहार में क्या होगा एनडीए सरकार का एजेंडा

बिहार में अब नई सरकार बनाने की तैयारी चल रही है. रविवार को दिनभर बिहार में बैठकों का दौर चला. दिल्ली से बिहार पहुंचा रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने एनडीए की बैठक में मुख्यमंत्री के लिए नीतीश कुमार के नाम की आधिकारिक घोषणा की, जिसके बाद नीतीश राज्यपाल के पास सरकार बनाने का दावा लेकर पहुंचे. आज दिनभर की इस चहलकदमी का निचोड़ यही निकला कि नीतीश कुमार सोमवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. हालांकि, अभी भी उप-मुख्यमंत्री के नाम पर सस्पेंस जारी है.

  1. सबसे पहले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) के नवनिर्वाचित विधायकों की रविवार को मुख्यमंत्री आवास पर बैठक हुई और इस बैठक में केंद्रीय पर्यवेक्षक और बीजेपी के वरिष्ठ नेता राजनाथ सिंह ने एनडीए विधायक दल के नेता के लिए नीतीश कुमार के नाम की आधिकारिक घोषणा की.
  2. एनडीए विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद नीतीश कुमार राजभवन पहुंचे, जहां उन्होंने बिहार के राज्यपाल फागू चौहान के सामने सरकार बनाने के लिए एनडीए की तरफ से प्रस्ताव रखा.
  3. राजभवन से बाहर निकल कर संवाददाताओं से बातचीत करते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि सोमवार को दिन के चार-साढे चार बजे शपथ ग्रहण समारोह का आयोजन किया जाएगा. उन्होंने जोर देते हुए कहा, बिहार को विकास के रास्ते पर आगे ले चलना है और सबको मिलकर काम करना है.
  4. मंत्रियों के नामों के संबंध में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि अभी इस पर कोई चर्चा नहीं हुई है. अब आगे सब कुछ तय कर लिया जाएगा. सुशील कुमार मोदी के उपमुख्यमंत्री बनाए जाने को लेकर भी मुख्यमंत्री ने कोई जवाब नहीं दिया.
  5. इसके बाद राजनाथ सिंह भी राज्यपाल से मुलाकात करने राजभवन पहुंचे. वहां उन्होंने उप-मुख्यमंत्री के बारे में पूछे जाने पर कहा कि डिप्टी सीएम का फैसला ये लोग बैठ कर करेंगे. इसकी जानकारी उचित समय पर दी जाएगी.
  6. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, बीजेपी ने नित्यानंद राय और संजय जायसवाल का नाम उपमुख्यमंत्री पद के लिए नीतीश कुमार को दिया है. दोनों में से ही किसी एक के नाम पर मुहर लग सकती है. संजय जायसवाल के उपमुख्यमंत्री बनने की सूरत में बीजेपी किसी सवर्ण को बना प्रदेश अध्यक्ष सकती है.
  7. वहीं इन सब के बाद सुशील मोदी ने ट्वीट कर सबको चौंका दिया. उन्होंने ट्वीट कर लिखा, “भाजपा और संघ परिवार ने मुझे 40 सालों के राजनीतिक जीवन में इतना दिया की शायद किसी दूसरे को नहीं मिला होगा. आगे भी जो जिम्मेवारी मिलेगी, उसका निर्वहन करूंगा. कार्यकर्ता का पद तो कोई छीन नहीं सकता.”
  8. इधर बीजेपी विधानमंडल दल के नेता तारकिशोर प्रसाद का नाम भी उपमुख्यमंत्री की रेस में आगे चल रहा है.पार्टी सूत्रों के अनुसार, दो उपमुख्यमंत्री की सूरत में उप-नेता रेणु देवी भी उप-मुख्यमंत्री हो सकती हैं.

You can share this post!

Comments

Leave Comments