logo

  • 22
    08:48 am
  • 08:48 am
logo Media 24X7 News
news-details
धर्म-कर्म

त्रेतायुग की थीम, रामधुन में मग्न भक्त, भूमिपूजन के लिए ऐसे सजी है अयोध्या नगरी

  • चारों ओर रामधुन में मग्न दिख रहे हैं रामभक्त
  • भूमि पूजन से पहले अयोध्या में भव्य सजावट

जैसे-जैसे राम मंदिर के भूमिपूजन की घड़ी नजदीक आ रही है, वैसे-वैसे अयोध्यावासियों का उल्लास और उत्साह बढ़ता जा रहा है. आम लोग हों या साधु संत, सभी इस पल को लेकर आह्लादित हैं. अयोध्या में सभी ओर जश्न का माहौल है. पूरी अयोध्या नगरी को त्रेतायुग की थीम पर सजाया गया है. जिधर देखें उधर खुशी का माहौल है. यहां का हर एक व्यक्ति राममय दिख रहा है. रामभक्त रामधुन में मग्न दिख रहे हैं. भूमि पूजन से पहले पूरी अयोध्या सज-धज कर तैयार है.

भूमि पूजन को देखते हुए साधु संतों का उत्साह देखते ही बन रहा है. आश्रमों में भजन-कीर्तन चल रहा है और लोग बधाई गीत गा रहे हैं. साधु संतों के साथ रामधुन पर आम लोग भी नाच रहे हैं, गा रहे हैं और अपनी खुशी का इजहार कर रहे हैं. कोई डफली बजा रहा है तो कोई डमरू बजा रहा है. कोई तबले की थाप पर अपनी अपनी खुशी का इजहार कर रहा है. कुल मिलाकर अयोध्या भूमि पूजन से पहले राम के रंग में संपूर्ण तौर पर रंग चुकी है.

पूरी अयोध्या सील

इस खास कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भी आगमन हो रहा है. उनके अलावा लगभग 170 विशिष्ट मेहमान भूमि पूजन में शामिल होंगे. इनमें राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत का भी नाम है. इस वीआईपी मूवमेंट को देखते हुए पूरी अयोध्या नगरी को सील कर दिया गया है. बाहर से किसी वाहन के अंदर आने की इजाजत नहीं है. जगह-जगह पुलिस के नाके बने हैं जहां गहन चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है. एक दिन पहले मंगलवार को एसपीजी ने कार्यक्रम स्थल का मुआयना किया और सुरक्षा के बंदोबस्त का जायजा लिया. प्रधानमंत्री मोदी लगभग तीन घंटे अयोध्या में रुकेंगे. हनुमान गढ़ी में पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था है. कोरोना प्रोटोकॉल की वजह से प्रधानमंत्री का स्वागत सत्कार समारोह न होने के आसार हैं. यह कहा जा रहा है कि प्रधानमंत्री किसी चीज को हाथ नहीं लगाएंगे.

रोशनी में नहा उठी अयोध्या

इससे पहले मंगलवार को अयोध्या नगरी रोशनी में नहा उठी. अयोध्या शहर बुधवार रात तक जगमग रहेगा. मंगलवार को यहां 3,51000 दिए जलाए गए. राम की पैड़ी समेत अयोध्या धाम की 50 जगहों पर दीए जलाए गए. अयोध्या में शायद ही कोई मंदिर बचा हो, जिसे दीए की रोशनी से जगमग न किया गया हो. अयोध्या प्रशासन ने बताया कि 1 लाख 25 हजार दीपक सरयू घाट (राम की पैड़ी) पर जलाए गए. इसके अलावा 25 हजार भरतकूप, छोटी चौक में 11 हजार, बड़ी चौक में 12 हजार, हनुमान गढ़ी में 11000, जन्मभूमि में 101, इसके अलावा और भी कई जगहों पर दीपक जलाए गए. एक तरह से पूरी अयोध्या नगरी दीपक की रोशनी से नहा उठी.

लाल झंडों से पटीं सड़कें

अयोध्या में पिछले कई दिन से खास तैयारी चल रही है. यहां तक कि सड़क किनारे मकानों की भी रंगाई-पुताई कराई गई है. सड़क के दोनों किनारों पर बने घर पीले रंग में रंग दिए गए हैं. उन पर रामकथा के चित्र उकेरे गए हैं. इस पूरे क्षेत्र को भगवा और लाल झंडों से पाट दिया गया है. मंगलवार को अयोध्या में रामार्चा पूजा संपन्न कराई गई. बता दें, बुधवार को प्रधानमंत्री के भूमिपूजन के दिन अयोध्या, मथुरा, काशी, दिल्ली के आचार्य भूमि पूजन कराएंगे. अयोध्या में मेहमानों के आने का सिलसिला दो दिन पहले से जारी है. संघ प्रमुख मोहन भागवत मंगलवार को अयोध्या पहुंच गए हैं.

You can share this post!

Comments

Leave Comments