logo

  • 25
    04:16 pm
  • 04:16 pm
logo Media 24X7 News
news-details
भारत

Bharat Bandh LIVE Updates: भारत बंद का बड़ा असर, सिंघु बॉर्डर पर डटे किसानों ने कहा- कानून वापस लेने ही पड़ेंगे

Bharat Bandh, 8 December 2020 LIVE Updates:8 दिसंबर को भारत बंद के एलान के बीच 9 दिसंबर को सरकार और किसानों के बीच छठे दौर की बातचीत होनी है. किसानों के भारत बंद के समर्थन में पंजाब और हरियाणा की मंडियां, पेट्रोल-डीजल एसोसिएशन और दिल्ली ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन ने भी बंद के समर्थन का एलान किया है.

 

Bharat Bandh LIVE Updates: भारत बंद का बड़ा असर, सिंघु बॉर्डर पर डटे किसानों ने कहा- कानून वापस लेने ही पड़ेंगे

 

11:47 AM IST | 08 DEC 2020

राजस्थान में परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने जयपुर में ट्रैक्टर चलाकर भारत बंद का समर्थन किया. परिवहन मंत्री ने कहा, "केंद्र को समझना चाहिए कि उनका ज़ुल्म, तानाशाही ज़्यादा नहीं चलेगी। किसान विरोधी कानून वापस लेने पड़ेंगे, तमाम विपक्षी पार्टियां इनके विरोध में हैं."

11:31 AM IST | 08 DEC 2020

 

10:51 AM IST | 08 DEC 2020

आम आदमी पार्टी ने ट्वीट कर जानकारी दी कि दिल्ली पुलिस ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को घर पर नज़रबंद किया है, मुख्यमंत्री कल जब सिंघु बॉर्डर गए थे तभी से उन्हें नज़रबंद किया हुआ है.

 

10:16 AM IST | 08 DEC 2020

ट्रक संगठनों की शीर्ष संस्था ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस ने बंद में शामिल होने का फैसला किया है और आज अपना परिचालन निलंबित रखा है. महाराष्ट्र राज्य ट्रक टेंपो टैंकर्स वाहतुक संघ के सचिव दया नाटकर ने कहा कि दूध, सब्जियों और फल जैसी जरूरी वस्तुओं की ढुलाई को इस बंद से बाहर रखा गया है.

10:05 AM IST | 08 DEC 2020

बिहार के हाजीपुर, जहानाबाद, खगड़िया, दरभंगा समेत अन्य जिलों में किसान और महागठबंधन कार्यकर्ता सुबह से सड़कों पर उतरकर किसानों की आवाज बुलंद करने के साथ ही बंद को सफल बनाने में जुट गए हैं.

 

10:05 AM IST | 08 DEC 2020

तेलंगाना के कामरेड्डी में सड़क परिवहन निगम के कर्मचारी भारत बंद को अपना समर्थन दे रहे हैं. एक बस चालक का कहना है, "हम आरटीसी के कार्यकर्ता यहां विरोध कर रहे हैं. किसानों के साथ अन्याय नहीं होना चाहिए."

9:56 AM IST | 08 DEC 2020

कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान संगठनों द्वारा आहूत भारत बंद के मद्देनजर एक किसान संगठन के सदस्यों ने महाराष्ट्र के बुलढाणा जिले में ट्रेन रोकी. ‘स्वाभिमानी शेतकारी संगठन’ के सदस्यों ने बुलढाणा जिले में मलकापुर स्टेशन पर चेन्नई-अहमदाबाद नवजीवन एक्सप्रेस को रोककर कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन किया. एक अधिकारी ने बताया कि पुलिस ने रेल पटरियों से प्रदर्शनकारियों को हटाने के बाद संगठन के नेता रविकांत तुपकार और उनके समर्थकों को हिरासत में ले लिया.

9:54 AM IST | 08 DEC 2020

नोएडा में कानून-व्यवस्था के एडिशनल कमिश्नर लव कुमार ने कहा है कि भारत बंद के आवाह्न के चलते इसका विशेष ध्यान रखा गया है कि जनता को किसी तरह की असुविधा न हो, यातायात बाधित न हो. जनपद में प्रवेश और निकासी की जगहों पर पर्याप्त सुरक्षा बल तैनात है. जबरन बंद न हो ये सुनिश्चित किया जा रहा है.

9:42 AM IST | 08 DEC 2020

पंजाब के अमृतसर में भारत बंद के समर्थन में दुकानें बंद दिखीं. किसान मज़दूर संघर्ष कमेटी के महासचिव ने बताया, "दुकानें लगभग बंद हैं, इमरजेंसी सेवा बहाल है. लोग अपने मन से शटर बंद कर रहे हैं." उधर किसान प्रदर्शनकारी सिंघु बॉर्डर पर डटे हुए हैं. किसानों के विरोध प्रदर्शन को देखते हुए सिंघु बॉर्डर पर सुरक्षा बल तैनात है.

9:14 AM IST | 08 DEC 2020

आंध्र प्रदेश में कृषि कानूनों के खिलाफ बुलाए गए भारत बंद के समर्थन में विशाखापट्टनम में लेफ्ट पार्टियों ने विरोध प्रदर्शन किया. वहीं, पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में भारत बंद के समर्थन में विरोध प्रदर्शन कर रही लेफ्ट पार्टियों ने जादवपुर में रेल रोकी.

9:00 AM IST | 08 DEC 2020

कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे किसानों के विरोध प्रदर्शन को देखते हुए सिंघु बॉर्डर पर सुरक्षा बल तैनात है. किसान यूनियनों ने आज कृषि कानूनों के खिलाफ भारत बंद का आवाह्न किया है.

 

8:58 AM IST | 08 DEC 2020

पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में भारत बंद के समर्थन में विरोध प्रदर्शन कर रही लेफ्ट पार्टियों ने जादवपुर में रेल रोकी. यहां पार्टी के कार्यकर्ता रेल पटरी पर उतर गए और केंद्र सरकार से नए कृषि कानून वापस लेने की मांग कर रहे हैं. साथ ही नारेबाजी भी कर रहे हैं.

8:23 AM IST | 08 DEC 2020

नोएडा लिंक रोड पर चिल्ला बॉर्डर बंद कर दिया गया है. नोएडा लिंक रोड पर चिल्ला बॉर्डर भी गौतम बुद्ध गेट के पास किसानों के प्रदर्शन के चलते नोएडा से दिल्ली यातायात बंद कर दिया गया है. पुलिस ने लोगों को दिल्ली आने के लिए नोएडा लिंक रोड से परहेज करने और डीएनडी का इस्तेमाल करने की सलाह दी है.

7:53 AM IST | 08 DEC 2020

दिल्ली को नोएडा से जोड़ने वाले नेशनल हाइवे 24 पर दिल्ली की ओर जाने वाली सड़क पर पुलिस ने बैरिकेडिंग कर रखी है. सुबह होने की वजह से अभी इस मार्ग पर वाहनों की आवाजाही कम है, लेकिन दफ्तर खुलने के समय यहां जाम की स्थिति पैदा हो सकती है. इस सड़क पर बड़ी संख्या में किसान प्रदर्शन कर रहे हैं. हालांकि दिल्ली से नोएडा की ओर जाने वाले वाहनों को फिलहाल किसी तरह की दिक्कत नहीं हो रही है. दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने ट्वीट कर कहा है कि लोगों को सलाह दी जाती है कि वह दिल्ली आने के लिए NH 24 से बचें और दिल्ली आने के लिए अप्सरा, भोपड़ और डीएनडी का उपयोग करें.

7:38 AM IST | 08 DEC 2020

गृह मंत्रायल ने भारत बंद को लेकर एडवाइजरी जारी कर सभी राज्यो को कानून व्यवस्था सुनिशिचत करने की बात कही है. गृहमंत्रालय ने निर्देश दिया है कि राज्य सरकार सुनिश्चित करे कि कहीं भी अप्रिय घटना न होने पाए.

7:24 AM IST | 08 DEC 2020

भारत बंद के दौरान आज राजधानी दिल्ली में ओला-उबर की टैक्सी नहीं चलेंगी. सर्वोदय ड्राइवर्स एसोसिएशन ने किसानों के समर्थन में ये बड़ा एलान किया है. इतना ही नहीं ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस ने भी देशव्यापी चक्का जाम की घोषणा की है. एसोसिएशन के इस एलान के बाद अब लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है.

7:47 AM IST | 08 DEC 2020

 

Farmers Protest: आज भारत बंद, जानिए दिल्ली के एंट्री प्वाइंट्स पर कैसी है वाहनों की आवाजाही

भारत बंद के दौरान आज राजधानी दिल्ली में ओला-उबर की टैक्सी नहीं चलेंगी. ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस ने भी देशव्यापी चक्का जाम की घोषणा की है.हरियाणा-पंजाब के अलावा यूपी, दिल्ली, ओडिशा, उत्तराखंड, पश्चिम बंगाल, एमपी, राजस्थान और तमिलनाडु के किसानो ने भी भारत बंद का समर्थन किया है....

www.abplive.com

7:02 AM IST | 08 DEC 2020

सीएम ममता ने पश्चिम मेदिनीपुर जिले में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘केंद्र की बीजेपी सरकार को "जनविरोधी" कृषि कानूनों को तुरंत वापस लेना चाहिए या उसे सत्ता से हट जाना चाहिए. किसानों के अधिकारों का बलिदान करने के बाद उसे सत्ता में नहीं बने रहना चाहिए.’’ उन्होंने कहा, ‘’मैं बीजेपी के कुशासन को सहन करने या चुप रहने के बजाय जेल में रहूंगी.’’

7:02 AM IST | 08 DEC 2020

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृण मूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी ने किसानों के भारत बंद को लेकर बड़ा बयान दिया है. सीएम ममता बनर्जी ने कहा है कि हमारी सरकार आज होने वाले भारत बंद का समर्थन नहीं करती है, लेकिन सरकार किसान आंदोलन का समर्थन करती रहेगी.

6:38 AM IST | 08 DEC 2020

केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों ने आज भारत बंद का ऐलान किया है. पिछले 12 दिनों से दिल्ली बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे किसान संगठन और सरकार के बीच बातचीत से अब तक कोई ठोस नतीजा नहीं निकल पाया है. अब दोनों पक्ष छठे दौर की बातचीत के लिए कल बैठक करेंगे. हरियाणा-पंजाब के अलावा यूपी, दिल्ली, ओडिशा, उत्तराखंड, पश्चिम बंगाल, एमपी, राजस्थान और तमिलनाडु के किसानो ने भी भारत बंद का समर्थन किया है.

5:56 AM IST | 08 DEC 2020

करीब 95 लाख ट्रक मालिकों और अन्य का प्रतिनिधित्व करने वाली देश में ट्रांसपोर्टरों की शीर्ष संस्था ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस (एआईएमटीसी) ने कहा कि बंद के समर्थन में वह पूरे देश में अपना संचालन बंद रखेगी. ऐसे में आज होने वाली हड़ताल का वस्तुओं के परिवहन पर असर पड़ सकता है.

5:03 AM IST | 08 DEC 2020

राजस्थान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने बताया कि सोनिया गांधी किसानों के समर्थन में इस साल अपना जन्मदिन नहीं मनाएंगी. डोटासरा ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसकी जानकारी दी. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ कांग्रेस का कार्यकर्ता किसानों के साथ सड़क पर कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा नजर आएगा.

3:59 AM IST | 08 DEC 2020

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राकांपा नेता शरद पवार, माकपा महासचिव सीताराम येचुरी, द्रमुक अध्यक्ष एम के स्टालिन और पीएजीडी अध्यक्ष फारुख अब्दुल्ला समेत प्रमुख नेताओं ने एक संयुक्त बयान जारी कर किसानों के भारत बंद का समर्थन किया है और केंद्र सरकार से किसानों की जायज मांगों को पूरा करने को कहा है.

3:14 AM IST | 08 DEC 2020

केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के सीनियर नेता रविशंकर प्रसाद ने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनावों के लिये कांग्रेस के घोषणा-पत्र में कृषि उपज विपणन समिति (एपीएमसी) अधिनियम को रद्द करने और कृषि-व्यापार को सभी पाबंदियों से मुक्त करने का वादा था. राहुल गांधी ने 2013 में सभी कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों को निर्देश दिया था कि वे फलों व सब्जियों को एपीएमसी की सूची से हटाएं और उन्हें सीधे खुले बाजार में बेचने की इजाजत दें.

2:45 AM IST | 08 DEC 2020

कांग्रेस ने कहा कि वो आज सभी जिला व राज्य मुख्यालयों पर प्रदर्शन करेगी तो वहीं पश्चिम बंगाल में सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस ने तीन दिनों तक विभिन्न इलाकों में धरने की घोषणा की है. आम आदमी पार्टी ने कहा कि वो आज राष्ट्रीय राजधानी में शांतिपूर्ण प्रदर्शन करेगी.

2:09 AM IST | 08 DEC 2020

कारोबारी संगठन सीएआईटी और ऑल इंडिया ट्रांसपोर्टर्स वेलफेयर एसोसिएशन ने कहा कि दिल्ली समेत देश भर में बाजार खुले रहेंगे और परिवहन सेवाओं का संचालन भी जारी रहेगा.

1:21 AM IST | 08 DEC 2020

कई नेताओं ने दावा किया कि बंद पूरे देश में प्रभावी होगा. किसान नेता बलबीर सिंह राजेवाल ने कहा, ‘‘मोदी सरकार को हमारी मांगों को स्वीकार करना होगा. हम नये कृषि कानूनों को वापस लेने से कम किसी चीज में नहीं मानेंगे.’’

12:44 AM IST | 08 DEC 2020

किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा, “हमारा बंद राजनीतिक दलों के बंद से अलग है. यह विचारधारा के कारण किया गया चार घंटे का सांकेतिक बंद है. हम चाहते हैं कि आम आदमी को कोई परेशानी न हो. हम उनसे इस अवधि के दौरान यात्रा न करने की अपील करते हैं.” उन्होंने आगे कहा, “हम दुकानदारों से भी इस अवधि के दौरान अपनी दुकानें बंद रखने का अनुरोध करते हैं.”

9:56 PM IST | 07 DEC 2020

इधर, कृषि कानूनों के समर्थन में हरियाणा के 20 किसानों के प्रतिनिधिमंडल ने केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर से मुलाकात की. कृषि मंत्री के साथ मुलाकात के बाद प्रोग्रेसिव फारमर्स क्लब सोनीपत के प्रसिडेंट कंवल सिंह चौहान ने कहा- जो किसान प्रदर्शन कर रहे हैं उन्हें बरगलाया जा रहा है. पीएम ने यह आश्वस्त किया है कि एमएसपी और मंडी व्यवस्था बनी रहेगी.

7:35 PM IST | 07 DEC 2020

कृषि क्षेत्र में सुधार के लिए केन्द्र की तरफ से लाए गए तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ केरल सरकार सुप्रीम कोर्ट का रूख करेगी. केरल के कृषि मंत्री वी.एस. सुनील कुमार ने कहा- “हम इसी हफ्ते सुप्रीम कोर्ट का रुख करेंगे. केरल में किसान विरोधी कानून को लागू नहीं होने देंगे और वैकल्पिक कानून पर विचार किया जाएगा. ”

6:16 PM IST | 07 DEC 2020

इधर, एक अन्य किसान नेता निर्भय सिंह ने कहा- हमारा प्रदर्शन पंजाब तक ही सीमित नहीं होगा. दुनियाभर से यहां तक की कनाडा के प्रधानमंत्री ट्रुडो हमारा समर्थन कर रहे हैं. हमारा प्रदर्शन शांतिपूर्ण तरीके से होगा.

6:16 PM IST | 07 DEC 2020

दिल्ली-हरियाणा स्थित सिंघु बॉर्डर पर किसान नेता डॉक्टर दर्शन पाल ने कहा- भारत बंद कल पूरे दिन रहेगा. चक्का जाम दोपहर 3 बजे तक रहेगा. यह शांतिपूर्ण बंद होगा. हम इस पर अड़े हैं कि किसी भी राजनीति दलों के नेताओं को अपने मंच की इजाजत नहीं देंगे.

6:16 PM IST | 07 DEC 2020

नए कृषि कानूनों पर किसानों की तरफ से 8 दिसंबर को देशव्यापी भारत बंद बुलाया गया है. इस बंद का कांग्रेस के अलावे देशभर के 11 राजनीतिक दलों ने अपना समर्थन दिया है. ऐसे में सोमवार को किसानों की तरफ से उन राजनीतिक दलों को हिदायत दी गई है, जिन्होंने किसान के शांतिपूर्ण प्रदर्शन का समर्थन किया है. किसानों की तरफ स ऐसे राजनीति दलों की तरफ से साफतौर पर कहा गया है कि वे प्रदर्शन के दौरान अपनी पार्टी के झंडे और बैनर ना लाएं.

3:45 PM IST | 07 DEC 2020

किसानों की तरफ से मंगलवार को बुलाए भारत बंद से ठीक पहले केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों को एडवाइजरी भेजी है. केन्द्र की तरफ से किसी भी तरह की अप्रिय घटना को रोकने के साथ ही कानून और शांति व्यवस्था को बनाए रखने के निर्देश दिए गए हैं.

3:03 PM IST | 07 DEC 2020

व्यापारियों के संगठन कनफेडेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने सोमवार को कहा कि नए कृषि कानूनों के खिलाफ मंगलवार को किसानों के ‘भारत बंद’ के दौरान दिल्ली और देश के अन्य हिस्सों में बाजार खुले रहेंगे. ऑल इंडिया ट्रांसपोर्टस वेलफेयर एसोसिएशन (एआईटीडब्ल्यू) भी घोषणा की है कि ‘भारत बंद’ के दौरान परिवहन या ट्रांसपोर्ट क्षेत्र का परिचालन भी सामान्य रहेगा.केंद्र के नए कृषि कानूनों के खिलाफ हजारों किसान पिछले 11 दिन से आंदोलन कर रहे हैं. किसानों ने लोगों से उनके ‘भारत बंद’ के आह्वान में शामिल होने की अपील की है.

2:10 PM IST | 07 DEC 2020

केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के खिलाफ पिछले 11 दिन से प्रदर्शन कर रहे किसानों ने जनता से अपील की है कि वे मंगलवार को आहूत ‘भारत बंद’ को अपना समर्थन दें.भारत बंद को विभिन्न राजनीतिक पार्टियों द्वारा समर्थन देने के कदम का भी किसानों ने स्वागत किया है. किसान केंद्र सरकार से नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग कर रहे हैं. कांग्रेस, आम आदमी पार्टी, समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, माकपा और द्रमुक ने भारत बंद को अपना समर्थन दिया है. दिल्ली पुलिस ने एहतियात के तौर पर हरियाणा और उत्तर प्रदेश से लगती सीमाओं पर तैनाती बढ़ा दी है और सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं.

1:54 PM IST | 07 DEC 2020

टीएमसी सांसद सौगत राय ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) आंदोलनकारी किसानों के साथ खड़ी है लेकिन हम पश्चिम बंगाल में भारत बंद का समर्थन नहीं करेंगे। यह(बंद) हमारी नीति के खिलाफ है. बता दें कि कृषि बिल के खिलाफ किसानों के आंदोलन का आज 12वां दिन है. इन बारह दिनों में किसान आंदोलन जंगल की आग की तरह देशभर में फैल चुका है.

1:12 PM IST | 07 DEC 2020

लखनऊ में धरने पर बैठे अखिलेश यादव को हिरासत में ले लिया गया है. किसान आंदोलन के मद्देनजर धारा 144 लागू है. अखिलेश ने कहा कि हम किसानों से बात करना चाहते हैं, सरकार उनकी बात नहीं सुन रही. बीजेपी पर एकतरफा फैसले का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि सरकार को किसानों का श्राप लगेगा.

1:02 PM IST | 07 DEC 2020

भारत बंद के समर्थन में मंगलवार को मुंबई, पुणे और नासिक के एपीएमसी मार्केट बंद रहेंगे.मुंबई की अहम सब्जी मंडियां भी बंद रहेंगी.इसके अलावा राज्य के कई मजदूर संगठनों ने भी इस बंद में शामील होने का ऐलान किया है.

बैकग्राउंड

नई दिल्ली: देश में कृषि कानूनों को लेकर किसानों का विरोध प्रदर्शन आज 12वें दिन भी जारी है. किसान लगातार केंद्र सरकार से कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग कर रहे हैं. किसानों ने 8 दिसंबर को भारत बंद का एलान किया है. किसानों के बड़े होते आंदोलन से सरकार पर दबाव बढ़ रहा है. भारत बंद को भी किसान संगठन एक शक्ति प्रदर्शन की तरह देख रहे हैं जिससे सरकार तक कड़ा संदेश पहुंचे.

 

भारत बंद को इन पार्टियों का समर्थन

 

किसानों की ओर से बुलाए गए 'भारत बंद' को लेकर किसान नेताओं की तरफ से शांतिपूर्वक प्रदर्शन की अपील की गई है. समर्थन करने वाले राजनीतिक दलों से कहा गया है कि वे अपने पोस्टर और बैनल लेकर ना आए. इधर, कांग्रेस, समाजवादी पार्टी, पीएजीडी, एसीपी, सीपीआई, सीपीएम, सीपीआई (एलएल), आरएसपी, आरजेडी, डीएमके और एआईएफबी ने बयान जारी कर भारत बंद का समर्थन किया है. इसके अलावा शिवसेना, जेएमएम, टीआरएस और आम आदमी पार्टी भी किसानों के पक्ष में खड़ी हैं.

 

बैंक यूनियन का भी समर्थन

 

इसके अलावा कई बैंक यूनियन ने भी नए कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों का समर्थन किया है. यूनियंस ने सरकार से इस मुद्दे को जल्द से जल्द सुलझाने का आग्रह किया है. ऑल इंडिया बैंक एंपलाइज एसोसिएशन (एआईबीईए) ने कहा है कि सरकार को आगे आकर देश और किसानों के हित में उनकी मांगों का समाधान करना चाहिए.

 

बता दें कि किसान तीन नए कानून- 1. मूल्य उत्पादन और कृषि सेवा अधिनियम, 2020, 2. आवश्यक वस्तु (संशोधन) अधिनियम, 2020 और 3. किसानों के उत्पादन व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सुविधा) अधिनियम, 2020 का विरोध कर रहे हैं. वहीं किसानों ने जानकारी देते हुए कहा है कि 8 दिसंबर को सुबह से लेकर शाम तक भारत बंद रहेगा. दोपहर तीन बजे तक पूरे देश में चक्का जाम रहेगा. किसानों का कहना है कि इस दौरान इमेरजेंसी सेवाओं जैसे एंबुलेंस आदि को नहीं रोका जाएगा.

 

वहीं कृषि कानूनों को हटाने की मांग के कारण किसान पिछले कुछ दिनों से दिल्ली बॉर्डर पर डेरा डाले हुए हैं और अपनी मांगों पर अड़े हैं. इस बीच आठ दिसंबर को भारत बंद का ऐलान किया गया है. जिसका कई राजनीतिक दलों ने भी समर्थन किया है

You can share this post!

Comments

Leave Comments